Friday, June 21, 2024

Tumsa Koi Pyara Koi Masoom Nahi Hai

Tumsa Koi Pyara Koi Masoom Nahi Hai Lyrics | Tumsa Koi Pyara Koi Masoom Nahi Hai Lyrics in English

Tumsa Koi Pyara Koi Masoom Nahi Hai (तुमसा कोई प्यारा कोई मासूम नहीं है) is a romantic song from the 1994 Bollywood film “Khuddar”. The song is composed by Anu Malik and written by Rahat Indori. It is sung by the legendary playback singers Kumar Sanu and Alka Yagnik. The song features the lead actors of the film, Govinda and Karishma Kapoor, and is picturized on a beautiful snowy landscape. The song became a huge hit upon its release and is still considered to be one of the most popular romantic songs from the 90s era of Bollywood music. Kumar Sanu’s Tumsa Koi Pyara Koi Masoom Nahi Hai lyrics in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Amazon Music

Romanized Script
Native Script

Barsaat ka mausam, yahan hum, yahan tum
Sajni ko mil gaye saajan, saajan, saajan

Tumsa koi pyara, koi masoom nahi hai
Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai
Laakhon hain, magar tumsa yahan kaun haseen hai?
Tum jaan ho meri, tumhein maloom nahi hai

Tumsa koi pyara, koi masoom nahi hai
Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai
Laakhon hain, magar tumsa yahan kaun haseen hai?
Tum jaan ho meri, tumhein maloom nahi hai

(Tumsa koi pyara, koi masoom nahi hai)
(Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai)

100 phool khile, jab yeh khila roop sunehra
100 chaand bane, jab yeh bana chaand sa chehra
Ho, 100 phool khile, jab yeh khila roop sunehra
100 chaand bane, jab yeh bana chaand sa chehra

Itna bhi koi pyaar ki raahon mein na gum ho
Bas hosh hai itna ki mere saath mein tum ho
Mere saath mein tum ho, mere saath mein tum ho

Hmm, dhadkan hai kahin, dil hai kahin, jaan kahin hai
Tum jaan ho meri, tumhein maloom nahi hai
Yeh chaandni inn aankhon ka saaya toh nahi hai
Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai

(Tumsa koi pyara, koi masoom nahi hai)
(Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai)

(Tumsa koi pyara, koi masoom nahi hai)
(Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai)

Yeh honth, yeh palkein, yeh nigahein, yeh adayein
Mil jaaye khuda mujhko toh main le loon balayein
Ho, yeh honth, yeh palkein, yeh nigahein, yeh adayein
Mil jaaye khuda mujhko toh main le loon balayein

Duniya ka koi gham bhi mere paas na hoga
Tum saath chaloge toh yeh ehsaas na hoga
Ehsaas na hoga, ehsaas na hoga

Hmm, aakaash hai pairon mein humare ki zameen hai?
Tum jaan ho meri, tumhein maloom nahi hai
Aisa koi mehboob zamaane mein nahi hai
Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai

Lakhon hain, magar tum sa yahan kaun haseen hai?
Tum jaan ho meri, tumhein maloom nahi hai

(Tumsa koi pyara, koi masoom nahi hai)
(Kya cheez ho tum, khud tumhein maloom nahi hai)

बरसात का मौसम, यहाँ हम, यहाँ तुम
सजनी को मिल गए साजन, साजन, साजन

तुम सा कोई प्यारा, कोई मासूम नहीं है
क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है
लाखों हैं, मगर तुम सा यहाँ कौन हसीं है?
तुम जान हो मेरी, तुम्हें मालूम नहीं है

तुम सा कोई प्यारा, कोई मासूम नहीं है
क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है
लाखों हैं, मगर तुम सा यहाँ कौन हसीं है?
तुम जान हो मेरी, तुम्हें मालूम नहीं है

(तुम सा कोई प्यारा, कोई मासूम नहीं है)
(क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है)

(तुम सा कोई प्यारा, कोई मासूम नहीं है)
(क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है)

१०० फूल खिले, जब ये खिला रूप सुनहरा
१०० चाँद बने, जब ये बना चाँद सा चेहरा
हो, १०० फूल खिले, जब ये खिला रूप सुनहरा
१०० चाँद बने, जब ये बना चाँद सा चेहरा

इतना भी कोई प्यार की राहों में ना गुम हो
बस होश है इतना कि मेरे साथ में तुम हो
मेरे साथ में तुम हो, मेरे साथ में तुम हो

Hmm, धड़कन है कहीं, दिल है कहीं, जान कहीं है
तुम जान हो मेरी, तुम्हें मालूम नहीं है
ये चाँदनी इन आँखों का साया तो नहीं है
क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है

(तुम सा कोई प्यारा, कोई मासूम नहीं है)
(क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है)

(तुम सा कोई प्यारा, कोई मासूम नहीं है)
(क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है)

ये होंठ, ये पलकें, ये निगाहें, ये अदाएँ
मिल जाए ख़ुदा मुझको तो मैं ले लूँ बलाएँ
हो, ये होंठ, ये पलकें, ये निगाहें, ये अदाएँ
मिल जाए ख़ुदा मुझको तो मैं ले लूँ बलाएँ

दुनिया का कोई ग़म भी मेरे पास ना होगा
तुम साथ चलोगे तो ये एहसास ना होगा
एहसास ना होगा, एहसास ना होगा

Hmm, आकाश है पैरों में हमारे कि ज़मीं है?
तुम जान हो मेरी, तुम्हें मालूम नहीं है
ऐसा कोई महबूब ज़माने में नहीं है
क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है

लाखों हैं, मगर तुम सा यहाँ कौन हसीं है?
तुम जान हो मेरी, तुम्हें मालूम नहीं है

(तुम सा कोई प्यारा, कोई मासूम नहीं है)
(क्या चीज़ हो तुम, ख़ुद तुम्हें मालूम नहीं है)

Song Credits

Lyricist(s):
Rahat Indori
Composer(s):
Anu Malik
Music:
Anu Malik
Music Label:
90's Gaane
Featuring:
Govinda & Karishma Kapoor

Official Video

You might also like

Get in Touch

12,038FansLike
13,982FollowersFollow
10,285FollowersFollow

Other Artists to Explore

Becky G

Snow Patrol

Zeph

Javed Ali

Payal Dev