Wednesday, July 17, 2024

Who Says

Who Says Lyrics Meaning in Hindi | Who Says Lyrics Meaning in English

Who Says is an English song by Selena Gomez from the album For You. The lyrics of the song are penned by Priscilla Hamilton & Emanuel Kiriakou, whereas Emanuel Kiriakou has produced the music of the song. Selena Gomez’s Who Says lyrics meaning in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Spotify

 

Romanized Script
Native Script

I wouldn’t wanna be anybody else, hey

I am content with who I am and do not aspire to be anyone else. I am grateful for the experiences and opportunities that have shaped me into the person I am today. While I may admire certain traits or qualities in others, I recognize the value of my own unique strengths and perspectives. I am confident in my own identity and do not feel the need to compare myself to others or seek their validation.

You made me insecure
Told me I wasn’t good enough
But who are you to judge?
When you’re a diamond in the rough

At one point in my life, I allowed someone to make me feel insecure and doubt my self-worth. They told me that I wasn’t good enough, and for a while, I believed them. However, I realized that this person was not in a position to judge me. We are all imperfect and flawed in some way, but that does not diminish our inherent value as human beings. Instead of internalizing their criticisms, I chose to recognize the potential within myself. I realized that just like a diamond in the rough, I have the potential to shine and become my best self. I am learning to love and appreciate myself for who I am, my flaws and all, and I refuse to let anyone else define my worth.

I’m sure you got some things
You’d like to change about yourself
But when it comes to me
I wouldn’t want to be anybody else

I believe that it is natural for us to have areas of our lives that we want to improve or change. We all have our own struggles and insecurities, and it can be easy to compare ourselves to others and feel inadequate. However, when it comes to myself, I am content with who I am and the journey I am on. I recognize that I am not perfect and that I have areas to grow and improve, but I also know that my unique experiences and qualities make me who I am. I would not want to trade my strengths, weaknesses, or challenges for anyone else’s, as they have shaped me into the person I am today. I am grateful for my individuality and embrace it fully, without the need to compare myself to others.

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

I’m no beauty queen
I’m just beautiful me

Society often places a great deal of value on external appearances and standards of beauty. However, I believe that true beauty comes from within and is not defined by anyone else’s standards. While I may not fit the traditional mold of a beauty queen, I know that I am beautiful in my own unique way. I have learned to appreciate and embrace my individuality, quirks, and flaws. I recognize that my inner beauty, including my kindness, compassion, and strength, is what truly matters. I strive to be confident in myself and not allow anyone else’s opinions or expectations to diminish my sense of self-worth. I am beautiful just as I am, and I am proud to be myself.

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

You’ve got every right
To a beautiful life
Come on

I believe that every person has the right to live a fulfilling and meaningful life. Regardless of our backgrounds, circumstances, or challenges, we are all deserving of happiness, love, and joy. It can be easy to get caught up in the struggles and difficulties of life, but I encourage you to remember that there is beauty and goodness to be found in every moment. Don’t let fear, doubt, or negativity hold you back from pursuing your dreams and living the life you deserve. Take risks, try new things, and embrace opportunities that come your way. You are worthy of a beautiful life, and I believe that with hard work, perseverance, and a positive attitude, you can achieve anything you set your mind to. So come on, let’s take on the world together and create the beautiful life we deserve.

Who says, who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it?
Who says you’re the only one that’s hurting?

We live in a world where it can be easy to feel judged and criticized. People may tell us that we are not good enough, that we don’t measure up to their standards of perfection. But who are they to judge us? We are all unique individuals with our own strengths, weaknesses, and challenges. No one is perfect, and we should not strive to be. It is important to remember that we are all worthy of love, respect, and kindness, regardless of what others may say. We should not let their opinions or words define us. We are all fighting battles that others may not see, and we should be kind and empathetic toward ourselves and others. We should support one another, lift each other up, and celebrate our differences. So who says you’re not perfect? Who says you’re not worth it? Who says you’re the only one that’s hurting? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and you are not alone.

Trust me, that’s the price of beauty
Who says you’re not pretty?
Who says you’re not beautiful?
Who says?

Our society often places a great deal of emphasis on physical appearance and holds unrealistic standards of beauty. Many people, especially young women, are bombarded with messages that they are not pretty or beautiful enough. But who is setting these standards, and why are we allowing them to define us? The truth is, beauty is not something that can be measured or defined by anyone else’s standards. We all have unique qualities that make us beautiful, and it is important to embrace and celebrate our individuality. Unfortunately, there are often consequences to this societal obsession with physical appearance, and it can lead to harmful behaviors and thoughts. We may feel pressure to conform to these beauty standards, or we may judge and criticize others based on their appearance. It is important to recognize that these behaviors are not healthy or sustainable. We should focus on developing our inner beauty, including our kindness, empathy, and compassion, rather than solely prioritizing our outward appearance. So who says you’re not pretty? Who says you’re not beautiful? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and your unique qualities make you beautiful.

It’s such a funny thing
How nothing’s funny when it’s you
You tell ’em what you mean
But they keep whiting out the truth

Have you ever noticed how our perspective can greatly impact our perception of reality? What may seem funny or lighthearted to someone else can feel completely different to us when we are personally experiencing it. It’s important to remember that our feelings and experiences are valid, and we should never feel ashamed or judged for how we feel. Unfortunately, many people may not understand or validate our experiences, leading to feelings of frustration and isolation. We may try to communicate our thoughts and feelings, but others may not listen or may try to invalidate our experiences. It can be difficult to maintain our sense of self-worth and authenticity in the face of such challenges. However, it’s important to remember that we have the power to choose how we respond to these situations. We can choose to stand up for ourselves and our truth, even when others may not understand or agree. We can surround ourselves with people who support and validate us, and seek out resources to help us cope with difficult situations. So, while it may be a funny thing that nothing seems funny when it’s you, know that your experiences are real and valid. Keep telling them what you mean, and never let anyone else whiten out your truth.

It’s like a work of art
That never gets to see the light
Keep you beneath the stars
Won’t let you touch the sky

Have you ever felt like you have so much potential and creativity inside you, but for some reason, you’re unable to express it fully? Like a work of art that’s hidden away in a dark room, never to see the light of day? It’s a frustrating and painful feeling. It’s almost as if there’s an invisible force keeping you from reaching your full potential – keeping you beneath the stars, unable to touch the sky. Unfortunately, many of us experience this feeling at some point in our lives. Whether it be due to external factors such as societal pressure or lack of resources, or internal factors such as self-doubt and fear, it can be difficult to break free and reach for the stars. However, it’s important to remember that we all have the potential to shine and make a difference in the world. We can break free from the chains that are holding us back by seeking out opportunities to express ourselves, whether it be through art, writing, music, or any other creative outlet. We can also challenge the limiting beliefs that we may hold about ourselves and our abilities, and seek out support from others who believe in us. So don’t let anyone or anything keep you from shining your light and reaching for the stars. You are a work of art that deserves to see the light and touch the sky.

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

I’m no beauty queen
I’m just beautiful me

Society often places a great deal of value on external appearances and standards of beauty. However, I believe that true beauty comes from within and is not defined by anyone else’s standards. While I may not fit the traditional mold of a beauty queen, I know that I am beautiful in my own unique way. I have learned to appreciate and embrace my individuality, quirks, and flaws. I recognize that my inner beauty, including my kindness, compassion, and strength, is what truly matters. I strive to be confident in myself and not allow anyone else’s opinions or expectations to diminish my sense of self-worth. I am beautiful just as I am, and I am proud to be myself.

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

You’ve got every right
To a beautiful life
Come on

I believe that every person has the right to live a fulfilling and meaningful life. Regardless of our backgrounds, circumstances, or challenges, we are all deserving of happiness, love, and joy. It can be easy to get caught up in the struggles and difficulties of life, but I encourage you to remember that there is beauty and goodness to be found in every moment. Don’t let fear, doubt, or negativity hold you back from pursuing your dreams and living the life you deserve. Take risks, try new things, and embrace opportunities that come your way. You are worthy of a beautiful life, and I believe that with hard work, perseverance, and a positive attitude, you can achieve anything you set your mind to. So come on, let’s take on the world together and create the beautiful life we deserve.

Who says, who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it?
Who says you’re the only one that’s hurting?

We live in a world where it can be easy to feel judged and criticized. People may tell us that we are not good enough, that we don’t measure up to their standards of perfection. But who are they to judge us? We are all unique individuals with our own strengths, weaknesses, and challenges. No one is perfect, and we should not strive to be. It is important to remember that we are all worthy of love, respect, and kindness, regardless of what others may say. We should not let their opinions or words define us. We are all fighting battles that others may not see, and we should be kind and empathetic toward ourselves and others. We should support one another, lift each other up, and celebrate our differences. So who says you’re not perfect? Who says you’re not worth it? Who says you’re the only one that’s hurting? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and you are not alone.

Trust me, that’s the price of beauty
Who says you’re not pretty?
Who says you’re not beautiful?
Who says?

Our society often places a great deal of emphasis on physical appearance and holds unrealistic standards of beauty. Many people, especially young women, are bombarded with messages that they are not pretty or beautiful enough. But who is setting these standards, and why are we allowing them to define us? The truth is, beauty is not something that can be measured or defined by anyone else’s standards. We all have unique qualities that make us beautiful, and it is important to embrace and celebrate our individuality. Unfortunately, there are often consequences to this societal obsession with physical appearance, and it can lead to harmful behaviors and thoughts. We may feel pressure to conform to these beauty standards, or we may judge and criticize others based on their appearance. It is important to recognize that these behaviors are not healthy or sustainable. We should focus on developing our inner beauty, including our kindness, empathy, and compassion, rather than solely prioritizing our outward appearance. So who says you’re not pretty? Who says you’re not beautiful? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and your unique qualities make you beautiful.

Who says you’re not star potential?
Who says you’re not presidential?
Who says you can’t be in movies?
Listen to me, listen to me

Don’t let anyone tell you that you’re not capable of achieving your dreams. You have the potential to be a star, whether it be in Hollywood, politics, or any other field you desire. Don’t let anyone else’s opinion of you limit your potential. Instead, listen to your own inner voice and trust in your abilities. Believe in yourself and your unique talents, and work hard to develop them. Pursue your passions with dedication and perseverance, and never let anyone discourage you from reaching for the stars. Remember that your dreams are valid and attainable, and you have the power to make them a reality. So, who says you can’t succeed? Listen to me – you have what it takes to achieve greatness.

Who says you don’t pass the test?
Who says you can’t be the best?
Who said, who said?
Won’t you tell me who said that?
Yeah, who said?

Don’t let anyone else’s opinion of you hold you back. You have the ability to succeed and excel in whatever you choose to do. It’s important to remember that the opinions of others do not define your worth or potential. You are capable of passing any test, reaching any goal, and being the best version of yourself. So, who said you can’t succeed? Who said you can’t achieve greatness? It’s time to challenge those limiting beliefs and prove them wrong. Don’t let anyone else’s doubts or insecurities hold you back from reaching your full potential. You have the power to create your own success and define your own path. So, when someone tries to tell you that you can’t, ask yourself – who said that? And then prove them wrong

Who says, who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it? (Yeah)
Who says you’re the only one that’s hurtin’ (Yeah, yeah)

We live in a world where it can be easy to feel judged and criticized. People may tell us that we are not good enough, that we don’t measure up to their standards of perfection. But who are they to judge us? We are all unique individuals with our own strengths, weaknesses, and challenges. No one is perfect, and we should not strive to be. It is important to remember that we are all worthy of love, respect, and kindness, regardless of what others may say. We should not let their opinions or words define us. We are all fighting battles that others may not see, and we should be kind and empathetic toward ourselves and others. We should support one another, lift each other up, and celebrate our differences. So who says you’re not perfect? Who says you’re not worth it? Who says you’re the only one that’s hurting? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and you are not alone.

Trust me, that’s the price of beauty (Oh, hey, yeah)
Who says you’re not pretty? (Beauty)
Who says you’re not beautiful? (Who said? I’m just beautiful me)

Our society often places a great deal of emphasis on physical appearance and holds unrealistic standards of beauty. Many people, especially young women, are bombarded with messages that they are not pretty or beautiful enough. But who is setting these standards, and why are we allowing them to define us? The truth is, beauty is not something that can be measured or defined by anyone else’s standards. We all have unique qualities that make us beautiful, and it is important to embrace and celebrate our individuality. Unfortunately, there are often consequences to this societal obsession with physical appearance, and it can lead to harmful behaviors and thoughts. We may feel pressure to conform to these beauty standards, or we may judge and criticize others based on their appearance. It is important to recognize that these behaviors are not healthy or sustainable. We should focus on developing our inner beauty, including our kindness, empathy, and compassion, rather than solely prioritizing our outward appearance. So who says you’re not pretty? Who says you’re not beautiful? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and your unique qualities make you beautiful.

Who says?
Who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it?
Who says you’re the only one that’s hurting?

We live in a world where it can be easy to feel judged and criticized. People may tell us that we are not good enough, that we don’t measure up to their standards of perfection. But who are they to judge us? We are all unique individuals with our own strengths, weaknesses, and challenges. No one is perfect, and we should not strive to be. It is important to remember that we are all worthy of love, respect, and kindness, regardless of what others may say. We should not let their opinions or words define us. We are all fighting battles that others may not see, and we should be kind and empathetic toward ourselves and others. We should support one another, lift each other up, and celebrate our differences. So who says you’re not perfect? Who says you’re not worth it? Who says you’re the only one that’s hurting? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and you are not alone.

Trust me, that’s the price of beauty
Who says you’re not pretty? (Who says you’re not beautiful?)
Who says you’re not beautiful?
Who says?

Our society often places a great deal of emphasis on physical appearance and holds unrealistic standards of beauty. Many people, especially young women, are bombarded with messages that they are not pretty or beautiful enough. But who is setting these standards, and why are we allowing them to define us? The truth is, beauty is not something that can be measured or defined by anyone else’s standards. We all have unique qualities that make us beautiful, and it is important to embrace and celebrate our individuality. Unfortunately, there are often consequences to this societal obsession with physical appearance, and it can lead to harmful behaviors and thoughts. We may feel pressure to conform to these beauty standards, or we may judge and criticize others based on their appearance. It is important to recognize that these behaviors are not healthy or sustainable. We should focus on developing our inner beauty, including our kindness, empathy, and compassion, rather than solely prioritizing our outward appearance. So who says you’re not pretty? Who says you’re not beautiful? Don’t listen to them. You are amazing just the way you are, and your unique qualities make you beautiful.

I wouldn’t wanna be anybody else, hey

मैं जो हूँ उससे संतुष्ट हूँ और किसी और जैसा बनने की मेरी कोई ख़्वाहिश नहीं है। मैं उन अनुभवों और अवसरों के लिए आभारी हूँ, जिन्होंने मुझे उस व्यक्ति के रूप में आकार दिया, जो मैं आज हूँ। भले ही दूसरे व्यक्तियों के गुण मुझे आकर्षित करते हैं, मैं अपनी अनूठी शक्तियों और दृष्टिकोणों के मूल्य को पहचानती हूँ। मुझे अपनी स्वयं की पहचान पर भरोसा है और दूसरों से अपनी तुलना करने या उनकी मान्यता प्राप्त करने की आवश्यकता मैं महसूस नहीं करती।

You made me insecure
Told me I wasn’t good enough
But who are you to judge?
When you’re a diamond in the rough

मेरे जीवन में एक समय था जब मैंने किसी को मुझे असुरक्षित महसूस करने और मेरे आत्म-मूल्य पर संदेह करने की अनुमति दी। उन्होंने मुझे बताया कि मैं अच्छी नहीं थी, और कुछ समय के लिए, मैंने उन पर विश्वास किया। हालाँकि, मुझे एहसास हुआ कि यह व्यक्ति मुझे आँकने की स्थिति में नहीं था। हम सभी अपूर्ण हैं और किसी न किसी तरह से त्रुटिपूर्ण हैं, लेकिन यह मनुष्य के रूप में हमारे अंतर्निहित मूल्य को कम नहीं करता है। उनकी आलोचनाओं को आत्मसात करने के बजाय, मैंने अपने भीतर की क्षमता को पहचानने का विकल्प चुना। मुझे एहसास हुआ कि कच्चे हीरे की तरह, मुझमें चमकने और अपना सर्वश्रेष्ठ बनने की क्षमता है। मैं अपने आप से प्यार करना और उसकी सराहना करना सीख रही हूँ कि मैं कौन हूँ, मेरी खामियाँ और सब कुछ, और मैं किसी और को मेरे मूल्य को परिभाषित करने की अनुमति नहीं देती हूँ।

I’m sure you got some things
You’d like to change about yourself
But when it comes to me
I wouldn’t want to be anybody else

मेरा मानना ​​है कि हमारे जीवन में उन क्षेत्रों का होना स्वाभाविक है जिन्हें हम सुधारना या बदलना चाहते हैं। हम सभी के अपने संघर्ष और असुरक्षाएँ होती हैं, और स्वयं की दूसरों से तुलना करना और अपर्याप्त महसूस करना आसान हो सकता है। हालांकि, जब मेरी ख़ुद की बात आती है तो मैं संतुष्ट हूँ कि मैं कौन हूँ और मैं किस यात्रा पर हूँ, मेरा लक्ष्य क्या है। मैं मानती हूँ कि मैं संपूर्ण नहीं हूँ और मेरे पास बढ़ने और सुधारने के क्षेत्र हैं, लेकिन मैं यह भी जानती हूँ कि मेरे अद्वितीय अनुभव और गुण मुझे वह बनाते हैं जो मैं हूँ। मैं अपनी ताक़त, कमज़ोरियों, या चुनौतियों का किसी और के साथ व्यापार नहीं करना चाहती, क्योंकि उन्होंने ही मुझे उस व्यक्ति के रूप में आकार दिया है जो मैं आज हूँ। मैं अपने व्यक्तित्व के लिए आभारी हूँ और दूसरों से अपनी तुलना करने की आवश्यकता के बिना इसे पूरी तरह से अपनाती हूँ।

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

I’m no beauty queen
I’m just beautiful me

समाज अक्सर बाहरी दिखावे और सुंदरता के मानकों को बहुत अधिक मूल्य देता है। हालाँकि, मेरा मानना ​​​​है कि सच्ची सुंदरता भीतर से आती है और किसी और के मानकों से परिभाषित नहीं होती है। भले ही मैं “सुंदरता की देवी” के पारंपरिक साँचे के अनुकूल नहीं हूँ, मगर मुझे पता है कि मैं अपने अनोखे तरीक़े से सुंदर हूँ। मैंने अपने व्यक्तित्व, विचित्रताओं और खामियों की सराहना करना और उन्हें गले लगाना सीख लिया है। मैं मानती हूँ कि मेरी दयालुता, करुणा और शक्ति सहित मेरी आंतरिक सुंदरता वास्तव में मायने रखती है। मैं अपने आप में आश्वस्त होने का प्रयास करती हूँ और किसी और की राय या अपेक्षाओं को अपने आत्म-मूल्य की भावना को कम करने की अनुमति नहीं देती। मैं जैसी हूँ वैसी ही ख़ूबसूरत हूँ और मुझे ख़ुद पर गर्व है।

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

You’ve got every right
To a beautiful life
Come on

मेरा मानना ​​है कि प्रत्येक व्यक्ति को पूर्ण और सार्थक जीवन जीने का अधिकार है। हमारी पृष्ठभूमि, परिस्थितियाँ, या चुनौतियाँ चाहे जो भी हों, हम सभी खुशी, प्रेम और आनंद के योग्य हैं। जीवन के संघर्षों और कठिनाइयों में फँसना आसान हो सकता है, लेकिन मैं आपको यह याद रखने के लिए प्रोत्साहित करती हूँ कि हर पल में सुंदरता और अच्छाई पाई जाती है। भय, संदेह या नकारात्मकता को अपने सपनों का पीछा करने और अपने लायक जीवन जीने से पीछे न हटने दें। जोखिम उठाएँ, नई चीज़ों को आज़माएँ और अपने रास्ते में आने वाले अवसरों को अपनाएँ। आप एक सुंदर जीवन के योग्य हैं, और मेरा मानना ​​है कि कड़ी मेहनत, दृढ़ता और सकारात्मक दृष्टिकोण से आप वह सब कुछ हासिल कर सकते हैं जिसके लिए आप अपना दिमाग़ लगाते हैं। तो चलिए, हम सब मिलकर दुनिया का सामना करते हैं और उस ख़ूबसूरत जीवन का निर्माण करते हैं जिसके हम हक़दार हैं।

Who says, who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it?
Who says you’re the only one that’s hurting?

हम एक ऐसी दुनिया में रहते हैं जहाँ राय बनाना और आलोचना महसूस करना आसान हो सकता है। लोग हमें बता सकते हैं कि हम अच्छे नहीं हैं, कि हम पूर्णता के उनके मानकों पर खरे नहीं उतरते। लेकिन वे हमें आँकने वाले कौन होते हैं? हम सभी अपनी ताक़त, कमज़ोरियों और चुनौतियों के साथ अद्वितीय व्यक्ति हैं। कोई भी पूर्ण नहीं है, और हमें पूर्ण बनने का प्रयास भी नहीं करना चाहिए। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हम सभी प्यार, सम्मान और दया के योग्य हैं, चाहे दूसरे कुछ भी कहें। हमें उनकी राय या शब्दों को स्वयं को परिभाषित नहीं करने देना चाहिए। हम सभी ऐसी लड़ाई लड़ रहे हैं जो दूसरे नहीं देख सकते हैं, और हमें अपने और दूसरों के प्रति दयालु और सहानुभूतिपूर्ण होना चाहिए। हमें एक-दूसरे का समर्थन करना चाहिए, एक दूसरे को ऊपर उठाना चाहिए और अपने मतभेदों का जश्न मनाना चाहिए। तो कौन कहता है कि तुम संपूर्ण नहीं हो? कौन कहता है कि तुम इसके लायक नहीं हो? कौन कहता है कि तुम ही हो जो दर्द दे रहे हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आप अकेले नहीं हैं।

Trust me, that’s the price of beauty
Who says you’re not pretty?
Who says you’re not beautiful?
Who says?

हमारा समाज अक्सर शारीरिक रूप-रंग पर बहुत अधिक ज़ोर देता है और सुंदरता के अवास्तविक मानक रखता है। बहुत से लोग, विशेष रूप से युवा महिलाओं पर संदेशों की बौछार की जाती है कि वे सुंदर या पर्याप्त सुंदर नहीं हैं। लेकिन ये मानक कौन स्थापित कर रहा है, और हम उन्हें स्वयं को परिभाषित करने की अनुमति क्यों दे रहे हैं? सच तो यह है कि सुंदरता कोई ऐसी चीज़ नहीं है जिसे किसी और के मानकों से मापा या परिभाषित किया जा सके। हम सभी में अद्वितीय गुण होते हैं जो हमें सुंदर बनाते हैं, और यह महत्वपूर्ण है कि हम अपने व्यक्तित्व को गले लगाएँ और उसका जश्न मनाएँ। दुर्भाग्य से, शारीरिक दिखावे के साथ इस सामाजिक जुनून के अक्सर परिणाम होते हैं, और यह हानिकारक व्यवहार और विचारों को जन्म दे सकता है। हम इन सौंदर्य मानकों के अनुरूप दबाव महसूस कर सकते हैं, या हम दूसरों को उनकी उपस्थिति के आधार पर आँक सकते हैं और उनकी आलोचना कर सकते हैं। यह पहचानना महत्वपूर्ण है कि ये व्यवहार स्वस्थ या टिकाऊ नहीं हैं। हमें अपने बाहरी स्वरूप को पूरी तरह से प्राथमिकता देने के बजाय अपनी आंतरिक सुंदरता को विकसित करने पर ध्यान देना चाहिए, जिसमें हमारी दया, सहानुभूति और करुणा शामिल है। तो कौन कहता है कि तुम सुंदर नहीं हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आपके अद्वितीय गुण आपको सुंदर बनाते हैं।

It’s such a funny thing
How nothing’s funny when it’s you
You tell ’em what you mean
But they keep whiting out the truth

क्या आपने कभी इस बात पर ध्यान दिया है कि कैसे हमारा दृष्टिकोण वास्तविकता की हमारी धारणा को अत्यधिक प्रभावित कर सकता है? जब हम व्यक्तिगत रूप से इसका अनुभव कर रहे होते हैं तो जो बात किसी और को अजीब या हल्की-फुल्की लग सकती है, वह हमें पूरी तरह से अलग महसूस हो सकती है। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हमारी भावनाएँ और अनुभव मान्य हैं, और हमें कभी भी शर्मिंदगी महसूस नहीं करनी चाहिए या हम जो महसूस करते हैं उसके बारे में राय नहीं बनानी चाहिए। दुर्भाग्य से, बहुत से लोग हमारे अनुभवों को समझ या मान्य नहीं कर सकते हैं, जिससे निराशा और अलगाव की भावना पैदा होती है। हम अपने विचारों और भावनाओं को संप्रेषित करने का प्रयास कर सकते हैं, लेकिन अन्य लोग नहीं सुन कर हमारे अनुभवों को अमान्य करने का प्रयास कर सकते हैं। इस तरह की चुनौतियों का सामना करते हुए आत्म-मूल्य और प्रामाणिकता की भावना को बनाए रखना मुश्किल हो सकता है। हालाँकि, यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हमारे पास यह चुनने की शक्ति है कि हम इन स्थितियों पर कैसे प्रतिक्रिया दें। हम अपने और अपनी सच्चाई के लिए खड़े होने का विकल्प चुन सकते हैं, भले ही दूसरे लोग इसे न समझें या इससे सहमत न हों। हम अपने आप को ऐसे लोगों से घेर सकते हैं जो हमारा समर्थन करते हैं और हमें मान्य करते हैं, और कठिन परिस्थितियों से निपटने में हमारी मदद करने के लिए संसाधनों की तलाश करते हैं। इसलिए, जबकि यह एक मज़ेदार बात हो सकती है कि जब आप होते हैं तो कुछ भी मज़ेदार नहीं लगता, यह जान लें कि आपके अनुभव वास्तविक और मान्य हैं। उन्हें बताते रहें कि आपका क्या मतलब है, और कभी भी किसी और को अपनी सच्चाई बताने न दें।

It’s like a work of art
That never gets to see the light
Keep you beneath the stars
Won’t let you touch the sky

क्या आपको कभी ऐसा लगा है कि आपके अंदर इतनी क्षमता और रचनात्मकता है, लेकिन किसी कारण से आप इसे पूरी तरह से व्यक्त नहीं कर पा रहे हैं? कला के एक काम की तरह जो एक अँधेरे कमरे में छिपा हुआ है, व दिन का प्रकाश कभी नहीं देख सकता? यह एक निराशाजनक और दर्दनाक एहसास है। यह लगभग वैसा ही है जैसे कोई अदृश्य शक्ति आपको आपकी पूरी क्षमता तक पहुँचने से रोक रही हो – आपको सितारों के नीचे रख रही हो, आकाश को छूने में असमर्थ बना रही हो। दुर्भाग्य से, हम में से कई लोग अपने जीवन में किसी समय इस भावना का अनुभव करते हैं। चाहे वह बाहरी कारकों जैसे कि सामाजिक दबाव या संसाधनों की कमी, या आंतरिक कारकों जैसे आत्म-संदेह और भय के कारण हो, मुक्त होना और सितारों तक पहुँचना मुश्किल हो सकता है। हालाँकि, यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हम सभी में चमकने और दुनिया में बदलाव लाने की क्षमता है। हम स्वयं को अभिव्यक्त करने के अवसर ढूँढकर उन ज़ंजीरों से मुक्त हो सकते हैं जो हमें रोक रही हैं, चाहे वह कला, लेखन, संगीत या किसी अन्य रचनात्मक आउटलेट के माध्यम से हो। हम उन सीमित विश्वासों को भी चुनौती दे सकते हैं जो हम अपने और अपनी क्षमताओं के बारे में रखते हैं, और उन लोगों से समर्थन माँग सकते हैं जो हम पर विश्वास करते हैं। इसलिए किसी को या किसी चीज़ को अपने प्रकाश को चमकने और सितारों तक पहुँचने से रोकने न दें। आप कला का एक सुंदर निर्माण हैं जो प्रकाश को देखने और आकाश को छूने के योग्य हैं।

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

I’m no beauty queen
I’m just beautiful me

समाज अक्सर बाहरी दिखावे और सुंदरता के मानकों को बहुत अधिक मूल्य देता है। हालाँकि, मेरा मानना ​​​​है कि सच्ची सुंदरता भीतर से आती है और किसी और के मानकों से परिभाषित नहीं होती है। भले ही मैं “सुंदरता की देवी” के पारंपरिक साँचे के अनुकूल नहीं हूँ, मगर मुझे पता है कि मैं अपने अनोखे तरीक़े से सुंदर हूँ। मैंने अपने व्यक्तित्व, विचित्रताओं और खामियों की सराहना करना और उन्हें गले लगाना सीख लिया है। मैं मानती हूँ कि मेरी दयालुता, करुणा और शक्ति सहित मेरी आंतरिक सुंदरता वास्तव में मायने रखती है। मैं अपने आप में आश्वस्त होने का प्रयास करती हूँ और किसी और की राय या अपेक्षाओं को अपने आत्म-मूल्य की भावना को कम करने की अनुमति नहीं देती। मैं जैसी हूँ वैसी ही ख़ूबसूरत हूँ और मुझे ख़ुद पर गर्व है।

Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na
Na-na-na-na, na-na-na-na
Na-na-na-na, na

You’ve got every right
To a beautiful life
Come on

मेरा मानना ​​है कि प्रत्येक व्यक्ति को पूर्ण और सार्थक जीवन जीने का अधिकार है। हमारी पृष्ठभूमि, परिस्थितियाँ, या चुनौतियाँ चाहे जो भी हों, हम सभी खुशी, प्रेम और आनंद के योग्य हैं। जीवन के संघर्षों और कठिनाइयों में फँसना आसान हो सकता है, लेकिन मैं आपको यह याद रखने के लिए प्रोत्साहित करती हूँ कि हर पल में सुंदरता और अच्छाई पाई जाती है। भय, संदेह या नकारात्मकता को अपने सपनों का पीछा करने और अपने लायक जीवन जीने से पीछे न हटने दें। जोखिम उठाएँ, नई चीज़ों को आज़माएँ और अपने रास्ते में आने वाले अवसरों को अपनाएँ। आप एक सुंदर जीवन के योग्य हैं, और मेरा मानना ​​है कि कड़ी मेहनत, दृढ़ता और सकारात्मक दृष्टिकोण से आप वह सब कुछ हासिल कर सकते हैं जिसके लिए आप अपना दिमाग़ लगाते हैं। तो चलिए, हम सब मिलकर दुनिया का सामना करते हैं और उस ख़ूबसूरत जीवन का निर्माण करते हैं जिसके हम हक़दार हैं।

Who says, who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it?
Who says you’re the only one that’s hurting?

हम एक ऐसी दुनिया में रहते हैं जहाँ राय बनाना और आलोचना महसूस करना आसान हो सकता है। लोग हमें बता सकते हैं कि हम अच्छे नहीं हैं, कि हम पूर्णता के उनके मानकों पर खरे नहीं उतरते। लेकिन वे हमें आँकने वाले कौन होते हैं? हम सभी अपनी ताक़त, कमज़ोरियों और चुनौतियों के साथ अद्वितीय व्यक्ति हैं। कोई भी पूर्ण नहीं है, और हमें पूर्ण बनने का प्रयास भी नहीं करना चाहिए। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हम सभी प्यार, सम्मान और दया के योग्य हैं, चाहे दूसरे कुछ भी कहें। हमें उनकी राय या शब्दों को स्वयं को परिभाषित नहीं करने देना चाहिए। हम सभी ऐसी लड़ाई लड़ रहे हैं जो दूसरे नहीं देख सकते हैं, और हमें अपने और दूसरों के प्रति दयालु और सहानुभूतिपूर्ण होना चाहिए। हमें एक-दूसरे का समर्थन करना चाहिए, एक दूसरे को ऊपर उठाना चाहिए और अपने मतभेदों का जश्न मनाना चाहिए। तो कौन कहता है कि तुम संपूर्ण नहीं हो? कौन कहता है कि तुम इसके लायक नहीं हो? कौन कहता है कि तुम ही हो जो दर्द दे रहे हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आप अकेले नहीं हैं।

Trust me, that’s the price of beauty
Who says you’re not pretty?
Who says you’re not beautiful?
Who says?

हमारा समाज अक्सर शारीरिक रूप-रंग पर बहुत अधिक ज़ोर देता है और सुंदरता के अवास्तविक मानक रखता है। बहुत से लोग, विशेष रूप से युवा महिलाओं पर संदेशों की बौछार की जाती है कि वे सुंदर या पर्याप्त सुंदर नहीं हैं। लेकिन ये मानक कौन स्थापित कर रहा है, और हम उन्हें स्वयं को परिभाषित करने की अनुमति क्यों दे रहे हैं? सच तो यह है कि सुंदरता कोई ऐसी चीज़ नहीं है जिसे किसी और के मानकों से मापा या परिभाषित किया जा सके। हम सभी में अद्वितीय गुण होते हैं जो हमें सुंदर बनाते हैं, और यह महत्वपूर्ण है कि हम अपने व्यक्तित्व को गले लगाएँ और उसका जश्न मनाएँ। दुर्भाग्य से, शारीरिक दिखावे के साथ इस सामाजिक जुनून के अक्सर परिणाम होते हैं, और यह हानिकारक व्यवहार और विचारों को जन्म दे सकता है। हम इन सौंदर्य मानकों के अनुरूप दबाव महसूस कर सकते हैं, या हम दूसरों को उनकी उपस्थिति के आधार पर आँक सकते हैं और उनकी आलोचना कर सकते हैं। यह पहचानना महत्वपूर्ण है कि ये व्यवहार स्वस्थ या टिकाऊ नहीं हैं। हमें अपने बाहरी स्वरूप को पूरी तरह से प्राथमिकता देने के बजाय अपनी आंतरिक सुंदरता को विकसित करने पर ध्यान देना चाहिए, जिसमें हमारी दया, सहानुभूति और करुणा शामिल है। तो कौन कहता है कि तुम सुंदर नहीं हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आपके अद्वितीय गुण आपको सुंदर बनाते हैं।

Who says you’re not star potential?
Who says you’re not presidential?
Who says you can’t be in movies?
Listen to me, listen to me

किसी को भी यह बताने की अनुमति मत देना कि तुम अपने सपनों को हासिल करने में सक्षम नहीं हो। आपमें एक महत्वपूर्ण व्यक्ति बनने की क्षमता है, चाहे वह हॉलीवुड में हो, राजनीति में हो, या आपकी इच्छा के किसी अन्य क्षेत्र में हो। अपने बारे में किसी और की राय को अपनी क्षमता को सीमित न करने दें। इसके बजाय, अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनें और अपनी क्षमताओं पर भरोसा रखें। अपने आप पर और अपनी अनूठी प्रतिभाओं पर विश्वास करें और उन्हें विकसित करने के लिए कड़ी मेहनत करें। समर्पण और दृढ़ता के साथ अपने जुनून का पीछा करें, और किसी को भी आपको सितारों तक पहुँचने से हतोत्साहित न होने दें। याद रखें कि आपके सपने मान्य और प्राप्य हैं, और आपके पास उन्हें वास्तविकता बनाने की शक्ति है। तो कौन कहता है कि आप सफ़ल नहीं हो सकते? मेरी बात सुनें – आपके पास वह सब कुछ है जो महानता हासिल करने के लिए चाहिए।

Who says you don’t pass the test?
Who says you can’t be the best?
Who said, who said?
Won’t you tell me who said that?
Yeah, who said?

स्वयं के बारे में किसी और की राय को अपने ऊपर हावी न होने दें। आप जो कुछ भी करना चाहते हैं उसमें सफ़ल होने और उत्कृष्टता प्राप्त करने की क्षमता रखते हैं। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि दूसरों की राय आपके मूल्य या क्षमता को परिभाषित नहीं करती है। आप किसी भी परीक्षा को पास करने, किसी भी लक्ष्य तक पहुँचने और स्वयं का सर्वश्रेष्ठ संस्करण बनने में सक्षम हैं। तो किसने कहा कि आप सफल नहीं हो सकते? किसने कहा कि आप महानता हासिल नहीं कर सकते? यह उन सीमित मान्यताओं को चुनौती देने और उन्हें ग़लत साबित करने का समय है। किसी और के संदेह या असुरक्षा की भावना को अपनी पूरी क्षमता हासिल करने हेतु रुकावट न बनने दें। आपके पास अपनी ख़ुद की सफ़लता बनाने और अपना रास्ता ख़ुद परिभाषित करने की शक्ति है। इसलिए जब कोई आपको यह बताने की कोशिश करता है कि आप नहीं कर सकते तो अपने आप से पूछें – “किसने कहा?” और फिर उन्हें ग़लत साबित करें।

Who says, who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it? (Yeah)
Who says you’re the only one that’s hurtin’ (Yeah, yeah)

हम एक ऐसी दुनिया में रहते हैं जहाँ राय बनाना और आलोचना महसूस करना आसान हो सकता है। लोग हमें बता सकते हैं कि हम अच्छे नहीं हैं, कि हम पूर्णता के उनके मानकों पर खरे नहीं उतरते। लेकिन वे हमें आँकने वाले कौन होते हैं? हम सभी अपनी ताक़त, कमज़ोरियों और चुनौतियों के साथ अद्वितीय व्यक्ति हैं। कोई भी पूर्ण नहीं है, और हमें पूर्ण बनने का प्रयास भी नहीं करना चाहिए। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हम सभी प्यार, सम्मान और दया के योग्य हैं, चाहे दूसरे कुछ भी कहें। हमें उनकी राय या शब्दों को स्वयं को परिभाषित नहीं करने देना चाहिए। हम सभी ऐसी लड़ाई लड़ रहे हैं जो दूसरे नहीं देख सकते हैं, और हमें अपने और दूसरों के प्रति दयालु और सहानुभूतिपूर्ण होना चाहिए। हमें एक-दूसरे का समर्थन करना चाहिए, एक दूसरे को ऊपर उठाना चाहिए और अपने मतभेदों का जश्न मनाना चाहिए। तो कौन कहता है कि तुम संपूर्ण नहीं हो? कौन कहता है कि तुम इसके लायक नहीं हो? कौन कहता है कि तुम ही हो जो दर्द दे रहे हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आप अकेले नहीं हैं।

Trust me, that’s the price of beauty (Oh, hey, yeah)
Who says you’re not pretty? (Beauty)
Who says you’re not beautiful? (Who said? I’m just beautiful me)

हमारा समाज अक्सर शारीरिक रूप-रंग पर बहुत अधिक ज़ोर देता है और सुंदरता के अवास्तविक मानक रखता है। बहुत से लोग, विशेष रूप से युवा महिलाओं पर संदेशों की बौछार की जाती है कि वे सुंदर या पर्याप्त सुंदर नहीं हैं। लेकिन ये मानक कौन स्थापित कर रहा है, और हम उन्हें स्वयं को परिभाषित करने की अनुमति क्यों दे रहे हैं? सच तो यह है कि सुंदरता कोई ऐसी चीज़ नहीं है जिसे किसी और के मानकों से मापा या परिभाषित किया जा सके। हम सभी में अद्वितीय गुण होते हैं जो हमें सुंदर बनाते हैं, और यह महत्वपूर्ण है कि हम अपने व्यक्तित्व को गले लगाएँ और उसका जश्न मनाएँ। दुर्भाग्य से, शारीरिक दिखावे के साथ इस सामाजिक जुनून के अक्सर परिणाम होते हैं, और यह हानिकारक व्यवहार और विचारों को जन्म दे सकता है। हम इन सौंदर्य मानकों के अनुरूप दबाव महसूस कर सकते हैं, या हम दूसरों को उनकी उपस्थिति के आधार पर आँक सकते हैं और उनकी आलोचना कर सकते हैं। यह पहचानना महत्वपूर्ण है कि ये व्यवहार स्वस्थ या टिकाऊ नहीं हैं। हमें अपने बाहरी स्वरूप को पूरी तरह से प्राथमिकता देने के बजाय अपनी आंतरिक सुंदरता को विकसित करने पर ध्यान देना चाहिए, जिसमें हमारी दया, सहानुभूति और करुणा शामिल है। तो कौन कहता है कि तुम सुंदर नहीं हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आपके अद्वितीय गुण आपको सुंदर बनाते हैं।

Who says?
Who says you’re not perfect?
Who says you’re not worth it?
Who says you’re the only one that’s hurting?

हम एक ऐसी दुनिया में रहते हैं जहाँ राय बनाना और आलोचना महसूस करना आसान हो सकता है। लोग हमें बता सकते हैं कि हम अच्छे नहीं हैं, कि हम पूर्णता के उनके मानकों पर खरे नहीं उतरते। लेकिन वे हमें आँकने वाले कौन होते हैं? हम सभी अपनी ताक़त, कमज़ोरियों और चुनौतियों के साथ अद्वितीय व्यक्ति हैं। कोई भी पूर्ण नहीं है, और हमें पूर्ण बनने का प्रयास भी नहीं करना चाहिए। यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हम सभी प्यार, सम्मान और दया के योग्य हैं, चाहे दूसरे कुछ भी कहें। हमें उनकी राय या शब्दों को स्वयं को परिभाषित नहीं करने देना चाहिए। हम सभी ऐसी लड़ाई लड़ रहे हैं जो दूसरे नहीं देख सकते हैं, और हमें अपने और दूसरों के प्रति दयालु और सहानुभूतिपूर्ण होना चाहिए। हमें एक-दूसरे का समर्थन करना चाहिए, एक दूसरे को ऊपर उठाना चाहिए और अपने मतभेदों का जश्न मनाना चाहिए। तो कौन कहता है कि तुम संपूर्ण नहीं हो? कौन कहता है कि तुम इसके लायक नहीं हो? कौन कहता है कि तुम ही हो जो दर्द दे रहे हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आप अकेले नहीं हैं।

Trust me, that’s the price of beauty
Who says you’re not pretty? (Who says you’re not beautiful?)
Who says you’re not beautiful?
Who says?

हमारा समाज अक्सर शारीरिक रूप-रंग पर बहुत अधिक ज़ोर देता है और सुंदरता के अवास्तविक मानक रखता है। बहुत से लोग, विशेष रूप से युवा महिलाओं पर संदेशों की बौछार की जाती है कि वे सुंदर या पर्याप्त सुंदर नहीं हैं। लेकिन ये मानक कौन स्थापित कर रहा है, और हम उन्हें स्वयं को परिभाषित करने की अनुमति क्यों दे रहे हैं? सच तो यह है कि सुंदरता कोई ऐसी चीज़ नहीं है जिसे किसी और के मानकों से मापा या परिभाषित किया जा सके। हम सभी में अद्वितीय गुण होते हैं जो हमें सुंदर बनाते हैं, और यह महत्वपूर्ण है कि हम अपने व्यक्तित्व को गले लगाएँ और उसका जश्न मनाएँ। दुर्भाग्य से, शारीरिक दिखावे के साथ इस सामाजिक जुनून के अक्सर परिणाम होते हैं, और यह हानिकारक व्यवहार और विचारों को जन्म दे सकता है। हम इन सौंदर्य मानकों के अनुरूप दबाव महसूस कर सकते हैं, या हम दूसरों को उनकी उपस्थिति के आधार पर आँक सकते हैं और उनकी आलोचना कर सकते हैं। यह पहचानना महत्वपूर्ण है कि ये व्यवहार स्वस्थ या टिकाऊ नहीं हैं। हमें अपने बाहरी स्वरूप को पूरी तरह से प्राथमिकता देने के बजाय अपनी आंतरिक सुंदरता को विकसित करने पर ध्यान देना चाहिए, जिसमें हमारी दया, सहानुभूति और करुणा शामिल है। तो कौन कहता है कि तुम सुंदर नहीं हो? उनकी बात मत सुनो। आप जैसे हैं वैसे ही अद्भुत हैं, और आपके अद्वितीय गुण आपको सुंदर बनाते हैं।

Song Credits

Lyricist(s):
Priscilla Hamilton & Emanuel Kiriakou
Composer(s):
Priscilla Hamilton & Emanuel Kiriakou
Music:
Emanuel Kiriakou
Music Label:
Warner Chappell Music
Featuring:
Selena Gomez

Official Video

You might also like

Get in Touch

12,038FansLike
13,982FollowersFollow
10,285FollowersFollow

Other Artists to Explore

B. Praak

Parul Mishra

Zeph

Dhvani Bhanushali

Vishal Mishra