Saturday, May 25, 2024

Ik Lamha

Ik Lamha Lyrics in Hindi | Ik Lamha Lyrics | Ik Lamha Azaan Sami Khan Lyrics in Hindi | Aaram Aata Hai Lyrics | Aaram Aata Hai Deedar Se Tere Lyrics

Ik Lamha (इक लम्हा) is a song by Azaan Sami Khan. The lyrics of the song are penned by AM Turaz, whereas Alex Shahbaz & Shafaat Ali have produced the music of the song. Azaan Sami Khan’s Ik Lamha lyrics in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Spotify

Romanized Script
Native Script

Teri dooriyan mujhpe gunaah hain
Dil-e-chaahat iski gavaah hai
Meri duniya teri panaah hai
Yahi ishq ne mujhse kaha hai

Kuch mujhmein tu aise basa hai
Koi mujhmein na meri jagah hai
Kuch dekhun toh tu dikhta hai
Meri aankhon meri teri nigaah hai

Tujhse bichhad ke, ba-khuda, main yahan
Jee na sakunga ik lamha

Aaram aata hai deedar se tere
Mit jaate hain saare gham
Hai yeh dua ke tujhe dekhte-dekhte hi
Nikal jaye dam

Shukrana chaahe main jitna bhi kar loon
Ke phir bhi rahega woh kam
Tera tasavvur mujhe deke maula ne
Mujhpe kiya hai karam

Nikal jaaye dam
Dam, dam, dam

Dil sawarta hai tere khayalon se
Dil sawarta hai tere khayalon se
Jagmagata hai tere ujaalon se

Raks karta hai dil tujhpe marta hua
Paagalon sa tera…
Paagalon sa tera zikr karta hua
Mere chain-o-sukoon teri raah hai
Tu rooh ki khwaab-gaah hai

Tujhse bichhad ke, ba-khuda, main yahan
Jee na sakunga ik lamha

Aaram aata hai deedar se tere
Mit jaate hain saare gham
Hai yeh dua ke tujhe dekhte-dekhte hi
Nikal jaye dam

Shukrana chaahe main jitna bhi kar loon
Ke phir bhi rahega woh kam
Tera tasavvur mujhe deke maula ne
Mujhpe kiya hai karam

Aaram aata hai deedar se tere
Mit jaate hain saare gham
Shukrana chaahe main jitna bhi kar loon
Ke phir bhi rahega woh kam

Aaram aata hai deedar se tere
Mit jaate hain saare gham
Hai yeh dua ke tujhe dekhte-dekhte hi
Nikal jaye dam

Shukrana chaahe main jitna bhi kar loon
Ke phir bhi rahega woh kam
Tera tasavvur mujhe deke maula ne
Mujhpe kiya hai karam

Aaram aata hai deedar se tere
Mit jaate hain saare gham
Hai yeh dua ke tujhe dekhte-dekhte hi
Nikal jaye dam

Hai yeh dua ke tujhe dekhte-dekhte hi
Nikal jaye dam

तेरी दूरियाँ मुझपे गुनाह हैं
दिल-ए-चाहत इसकी गवाह है
मेरी दुनिया तेरी पनाह है
यही इश्क़ ने मुझसे कहा है

कुछ मुझमें तू ऐसे बसा है
कोई मुझमें ना मेरी जगह है
कुछ देखूँ तो तू दिखता है
मेरी आँखों में तेरी निगाह है

तुझसे बिछड़ के, बा-ख़ुदा, मैं यहाँ
जी ना सकूँगा इक लम्हा

आराम आता है दीदार से तेरे, मिट जाते हैं सारे ग़म
है ये दुआ कि तुझे देखते-देखते ही निकल जाए दम
शुक्राना चाहे मैं जितना भी कर लूँ कि फिर भी रहेगा वो कम
तेरा तसव्वुर मुझे देके मौला ने मुझपे किया है करम

निकल जाए दम
दम, दम, दम

दिल सँवरता है तेरे ख़यालों से
दिल सँवरता है तेरे ख़यालों से
जगमगाता है तेरे उजालों से

रक्स करता है दिल तुझपे मरता हुआ
पागलों सा तेरा…
पागलों सा तेरा ज़िक्र करता हुआ
मेरे चैन-ओ-सुकूँ तेरी राह है
तू रूह की ख़्वाब-गाह है

तुझसे बिछड़ के, बा-ख़ुदा, मैं यहाँ
जी ना सकूँगा इक लम्हा

आराम आता है दीदार से तेरे, मिट जाते हैं सारे ग़म
है ये दुआ कि तुझे देखते-देखते ही निकल जाए दम
शुक्राना चाहे मैं जितना भी कर लूँ कि फिर भी रहेगा वो कम
तेरा तसव्वुर मुझे देके मौला ने मुझपे किया है करम

आराम आता है दीदार से तेरे, मिट जाते हैं सारे ग़म
शुक्राना चाहे मैं जितना भी कर लूँ कि फिर भी रहेगा वो कम

आराम आता है दीदार से तेरे, मिट जाते हैं सारे ग़म
है ये दुआ कि तुझे देखते-देखते ही निकल जाए दम
शुक्राना चाहे मैं जितना भी कर लूँ कि फिर भी रहेगा वो कम
तेरा तसव्वुर मुझे देके मौला ने मुझपे किया है करम

आराम आता है दीदार से तेरे, मिट जाते हैं सारे ग़म
है ये दुआ कि तुझे देखते-देखते ही निकल जाए दम

है ये दुआ कि तुझे देखते-देखते ही निकल जाए दम

Song Credits

Lyricist(s):
AM Turaz
Composer(s):
Azaan Sami Khan
Music:
Alex Shahbaz & Shafaat Ali
Music Label:
Hum Music
Featuring:
Azaan Sami Khan, Maya Ali

Official Video

You might also like

Get in Touch

12,038FansLike
13,982FollowersFollow
10,285FollowersFollow

Other Artists to Explore

Hina Nasrullah

Sachet Tandon

Neoni

Drake

Nabeel Shaukat Ali