Select Page

Home Lyrics Kaise
Kaise

Kaise

138 VIEWS
Kaise Lyrics | Kaise Lyrics in Hindi | Kaise Lyrics in English | Kaise Lyrics Talhah Yunus | Kaise Lyrics TY

Kaise (कैसे) is an Urdu Hip-Hop track by Talhah Yunus. The music of the song is produced by Jokhay. Talhah Yunus’s Kaise lyrics in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Spotify

कैसे समझेगी ये दुनिया फिर मुझे?
लिखता काग़ज़ों पे जो, लिख रहा बादलों पे मैं
कैसे समझेगी ये दुनिया फिर मुझे?
आज भी माहिरों मे से, तंग इन आदतों से मैं

सफ़र ये सिफ़र से
करोड़ों में अब ख़र्चे, यारों पे कटें पर्चे
बातें हैं पहेली, गुज़रेंगी तेरे सर से
लोगों की अब आँखों से ही आदतों को पढ़ते

पैसा मेरी तलाश में, बदले मैंने हालात ये
वो जलें मेरी याद में, तभी बढ़ें ये फ़ासले
वज़न मेरी हर बात में, नशे से अब तो पाक थे
वो भागें मेरे पीछे, क्या ये क़िस्मत लिखी हाथ से

दबा रही मुझे ये ज़िम्मेदारियाँ
चला रही मुझे मेरी ये यारियाँ
ख़ुदा ने मुझे मेहनत का सिला दिया
लोगों के लिए खड़ा हूँ, ख़ुद को मैंने क्या दिया?

सारी रात बैठा सोचता रहा, सर अपना नोचता रहा
कंधे पे ये बोझ सारा, दिलों में है ख़ौफ़ भरा
“कैसे हो रहा है गुज़ारा लोगों का?” कभी तो सोच ज़रा

मुझे सड़कों पे ढूँढ नहीं, मैं इन बारिशों का बूँद नहीं
काश होता मैं मशहूर नहीं, इज़्ज़त बड़ी, पर सुकून नहीं
अलग मैं इन सारों से, करता बातें अब तारों से
क्या ही सँभालोगे, मेरे दिल का हाल भला तुम क्या जानोगे

कैसे समझेगी ये दुनिया फिर मुझे?
लिखता काग़ज़ों पे जो, लिख रहा बादलों पे मैं
कैसे समझेगी ये दुनिया फिर मुझे?
आज भी माहिरों मे से, तंग इन आदतों से मैं

क्या सुनाऊँ मैं कहानियाँ, क्या दिखाऊँ अब आसानियाँ
रस्ता तो दिखा दिया, मुझे बदले में क्या दिया?
सब ढूँढें मुझमें ख़ामियाँ, फिर भी चलना सिखा दिया

लोग मुश्किलों से भागते रहे
किए सबके ख़्वाब पूरे, ख़ुद तो रातें जागते रहे
कभी इन बातों पे ध्यान तो दे
मेरे लफ़्ज़ मेरे सात सुर हैं, यही मेरा साथ दे रहे

आशिक़ी के चेहरे मुख़्तलिफ़, कला पुकारती है
वक़्त की क़दर है, बे-सबब अना बिगाड़ती है
दरिया तो आग के भी पार किए
क्या करें फ़रक़ लोगों में, दुनिया को मिसाल दी है

Now they wanna look like me
Wanna flow like me, do a hook like me
लहरें ये मेरी सीधा Karachi से Cali’
हाथों-हाथ गाने ready, आसमानों में हों daily

उर्दू rap की हम Face-ID
लिखने से पहले अपनी fees आएगी
When I pull up in a club, I don’t need ID
तेरी क़ीमत से ज़्यादा की मेरी weed आएगी

बे-अदब सही तो कभी बद-अख़्लाक़ भी
बे-क़दर कभी और कभी निगहबान भी
Rap मेरा art, जानाँ, यही मेरी heartbeat
यही मेरा घर, यही मेरी जायदाद भी

कैसे समझेगी ये दुनिया फिर मुझे?
लिखता काग़ज़ों पे जो, लिख रहा बादलों पे मैं
कैसे समझेगी ये दुनिया फिर मुझे?
आज भी माहिरों मे से, तंग इन आदतों से मैं

Kaise samjhegi yeh duniya phir mujhe?
Likhta kagazon pe jo, likh raha baadalon pe main
Kaise samjhegi yeh duniya phir mujhe?
Aaj bhi maahiron mein se, tang inn aadaton se main

Safar yeh sifar se
Karodon mein ab kharche, yaaron pe katein parche
Baatein hain paheli, guzrengi tere sir se
Logon ki ab aankhon se hi aadaton ko padhte

Paisa meri talaash mein, badle maine haalaat yeh
Woh jalein meri yaad mein, tabhi badhein yeh faasle
Wazan meri har baat mein, nashe se ab toh paak the
Woh bhaagein mere peeche, kya yeh qismat likhi haath se

Daba rahi mujhe yeh zimmedariyan
Chala rahi mujhe meri yeh yaariyan
Khuda ne mujhe mehnat ka sila diya
Logon ke liye khada hoon, khud ko maine kya diya?

Saari raat baitha sochta raha, sir apna nochta raha
Kandhe pe yeh bojh saara, dilon mein hai khauf bhara
“Kaise ho raha hai guzara logon ka?” Kabhi toh soch zara

Mujhe sadkon pe dhoond nahi
Main inn baarishon ka boond nahi
Kaash hota main mash’hoor nahi
Izzat badi, par sukoon nahi

Alag main inn saaron se
Karta baatein ab taaron se
Kya hi sambhaloge?
Mere dil ka haal bhala tum kya jaanoge

Kaise samjhegi yeh duniya phir mujhe?
Likhta kagazon pe jo, likh raha baadalon pe main
Kaise samjhegi yeh duniya phir mujhe?
Aaj bhi maahiron mein se, tang inn aadaton se main

Kya sunaaun main kahaniyan
Kya dikhaaun ab aasaniyan
Rasta toh dikha diya
Mujhe badle mein kya diya?
Sab dhoondhein mujhmein khaamiyan
Phir bhi chalna sikha diya

Log mushkilon se bhaagte rahe
Kiye sabke khwaab poore, khud toh raatein jaagte rahe
Tabhi inn baaton pe dhyaan toh de
Mere lafz mere saat sur hain, yahi mera saath de rahe

Aashiqi ke chehre mukhtalif, kala pukaarti hai
Waqt ki qadar hai, besabab ana bigaadti hai
Dariya toh aag ke bhi paar kiye
Kya karein farak logon mein, duniya ko misaal di hai

Now they wanna look like me
Wanna flow like me, do a hook like me
Lehrein yeh meri seedha Karachi se Cali’
Haathon-haath gaane ready, aasmanon mein ho daily

Urdu Rap ki hum Face-ID
Likhne se pehle apni fees aayegi
When I pull up in a club, I don’t need ID
Teri keemat se zyada ki meri weed aayegi

Be-adab sahi toh kabhi bad-iqhlaaq bhi
Be-qadar kabhi aur kabhi nigehbaan bhi
Rap mera art, jaana, yahi meri heartbeat
Yahi mera ghar, yahi meri jaaydaad bhi

Kaise samjhegi yeh duniya phir mujhe?
Likhta kagazon pe jo, likh raha baadalon pe main
Kaise samjhegi yeh duniya phir mujhe?
Aaj bhi maahiron mein se, tang inn aadaton se main

Kaise Song Details:

Album : Kaise
Lyricist(s) : Talhah Yunus
Composers(s) : Jokhay
Music Director(s) : Jokhay
Genre(s) : Hip-Hop/Rap
Music Label : Talhah Yunus
Starring : Talhah Yunus

Kaise Song Video:

Popular Albums

ALL

Albums

Similar Artists

ALL

Singers
error: Content is protected !!