Sunday, May 26, 2024

Shaam Bhi Khoob Hai

Dekhte Hi Tujhe Dil Deewana Hua Lyrics | Dekhte Hi Tujhe Dil Deewana Hua Lyrics in Hindi

Dekhte Hi Tujhe Dil Deewana Hua (देखते ही तुझे दिल दीवाना हुआ) is an enchanting Hindi song from the movie Karz, featuring the talented trio of Udit Narayan, Kumar Sanu, and Alka Yagnik. The soulful lyrics of the song are penned by the renowned Sameer, while the music is masterfully composed by Sanjeev-Darshan. The film stars the mesmerizing Shilpa Shetty, adding to the allure of this musical gem. Udit Narayan, Kumar Sanu & Alka Yagnik’s Dekhte Hi Tujhe Dil Deewana Hua lyrics in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Amazon Music

Romanized Script
Native Script

Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai
Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai
Zindagi ke liye aur kya chahiye?

Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai
Aashiqi ke liye aur kya chahiye?
Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai

Kya haseen hai sama, dhadkanein hain jawaan
Kya haseen hai sama, dhadkanein hain jawaan
Dosti ke liye aur kya chahiye?
Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai

Chaand ki chaandni, aasmaan ki pari
Shayaron ke liye tu hai ek shayari
Haan, dekhte hi tujhe dil deewana hua
Chaahaton ka shuru ek fasana hua

Rang hai, noor hai, chain hai, khwaab hai
Rang hai, noor hai, chain hai, khwaab hai
Ab khushi ke liye aur kya chahiye?
Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai

Husn hai, pyaar hai, dil hai, dildar hai
Husn hai, pyaar hai, dil hai, dildar hai

Bolti hai nazar, chup hai meri zubaan
Har kisi se juda hai meri dastaan
Na kisi se kabhi pyaar maine kiya
Dard-e-dil na kabhi, yaar, maine liya

Saaz hai, geet hai, sur hai, sangeet hai
Saaz hai, geet hai, sur hai, sangeet hai
Mausiqi ke liye aur kya chahiye?

Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai
Zindagi ke liye aur kya chahiye?
Shaam bhi khoob hai, paas mehboob hai
Aashiqi ke liye aur kya chahiye?

शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है
शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है
ज़िंदगी के लिए और क्या चाहिए?

शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है
आशिक़ी के लिए और क्या चाहिए?
शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है

क्या हसीं है समाँ, धड़कनें हैं जवाँ
क्या हसीं है समाँ, धड़कनें हैं जवाँ
दोस्ती के लिए और क्या चाहिए?
शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है

चाँद की चाँदनी, आसमाँ की परी
शायरों के लिए तू है एक शायरी
हाँ, देखते ही तुझे दिल दीवाना हुआ
चाहतों का शुरू एक फ़साना हुआ

रंग है, नूर है, चैन है, ख़्वाब है
रंग है, नूर है, चैन है, ख़्वाब है
अब ख़ुशी के लिए और क्या चाहिए?
शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है

हुस्न है, प्यार है, दिल है, दिलदार है
हुस्न है, प्यार है, दिल है, दिलदार है

बोलती है नज़र, चुप है मेरी जुबाँ
हर किसी से जुदा है मेरी दास्ताँ
ना किसी से कभी प्यार मैंने किया
दर्द-ए-दिल ना कभी, यार, मैंने लिया

साज़ है, गीत है, सुर है, संगीत है
साज़ है, गीत है, सुर है, संगीत है
मौसीक़ी के लिए और क्या चाहिए?

शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है
ज़िंदगी के लिए और क्या चाहिए?
शाम भी ख़ूब है, पास महबूब है
आशिक़ी के लिए और क्या चाहिए?

Song Credits

Lyricist(s):
Sameer
Composer(s):
Sanjeev-Darshan
Music:
Sanjeev-Darshan
Music Label:
T-Series
Featuring:
Shilpa Shetty, Sunil Shetty, Sunny Deol

Official Video

You might also like

Get in Touch

12,038FansLike
13,982FollowersFollow
10,285FollowersFollow

Other Artists to Explore

Mitski

Rosie Darling

Tulsi Kumar

Beyoncé

Georgia