Select Page

Home Lyrics Fitoor OST
Fitoor OST

Fitoor OST

567 VIEWS
Fitoor OST Lyrics | Fitoor OST | Fitoor OST Aima Baig Lyrics | Fitoor OST Hindi Lyrics | Fitoor OST Urdu Lyrics

Fitoor (फ़ितूर) is a 2021 Pakistani Television Series. Fitoor OST is sung by Aima Baig and Shani Arshad, the lyrics of the track are penned by Sabir Zafar. Aima Baig’s Fitoor OST lyrics in Hindi and in the romanized form are provided below.

Listen to the complete track on Spotify 

उसे १०० दफ़ा पुकारा है दिल ने
मगर मेरे दिल की बात वो सुन ना सका
जो आँखों में थीं मेरे आँसुओं की तरह
बिखरी वो ख़्वाहिशें चुन ना सका

अकेले चलते-चलते हों साए जैसे ढलते
रहें क्यूँ ये फ़ासले सदा दरमियाँ?

हो, वो मिला क्यूँ था अगर उसे बिछड़ना था?
मुक़द्दर दिल का था शायद, मुझे आख़िर बिखरना था
तमन्ना क्यूँ थी जीने की अगर वो ही मेरा ना था?
कोई ऐसा दर्द दे, निकल जाए जाँ, निकल जाए जाँ

तुझे चाहना, मोहब्बत से मिलना तुझे
अभी मुझमें वो लगन बाक़ी तो है
ये बेइंतहा तेरे बिन सुलगना मेरा
मेरी साँसों में अगन बाक़ी तो है

तजल्ली हो जो तेरी तो रातें जागें मेरी
रहें मिल के प्यार के ज़मीं-आसमाँ

हो, वो मिला क्यूँ था अगर उसे बिछड़ना था?
मुक़द्दर दिल का था शायद, मुझे आख़िर बिखरना था
तमन्ना क्यूँ थी जीने की अगर वो ही मेरा ना था?
कोई ऐसा दर्द दे, निकल जाए जाँ, निकल जाए जाँ

जियूँ मैं ज़रा, मुझे दे तू दिल में जगह
मिले मुझको धूप में साया तेरा
तेरे बिन नहीं सुकूँ ज़िंदगी में कहीं
भीगूँ ज़रा, है दिल बंजर मेरा

अँधेरे मेरे गहरे, सितारों से थे पहरे
मेरे ग़म की रात में हो तू कहकशाँ

हो, वो मिला क्यूँ था अगर उसे बिछड़ना था?
मुक़द्दर दिल का था शायद, मुझे आख़िर बिखरना था
तमन्ना क्यूँ थी जीने की अगर वो ही मेरा ना था?
कोई ऐसा दर्द दे, निकल जाए जाँ, निकल जाए जाँ

Usey 100 dafa pukara hai dil ne
Magar mere dil ki baat woh sun na saka
Jo aankhon mein thi mere aansuon ki tarah
Bikhri woh khwahishein chun na saka

Akele chalte-chalte hon saaye jaise dhalte
Rahein kyun yeh faasle sada darmiyaan?

Ho, woh mila kyun tha agar usey bichhdana tha?
Muqaddar dil ka tha shayad, mujhe aaqhir bikhrna tha
Tamanna kyun thi jeene ki agar woh hi mera na tha?
Koi aisa dard de, nikal jaaye jaan, nikal jaaye jaan

हो, वो मिला क्यूँ था अगर उसे बिछड़ना था?
मुक़द्दर दिल का था शायद, मुझे आख़िर बिखरना था
तमन्ना क्यूँ थी जीने की अगर वो ही मेरा ना था?
कोई ऐसा दर्द दे, निकल जाए जाँ, निकल जाए जाँ

Tujhe chaahna, mohabbat se milna tujhe
Abhi mujhmein woh lagan baaqi toh hai
Ye beintha tere bin sulagna mera
Meri saanson mein agan baaqi toh hai

Tajalli ho jo teri toh raatein jaagein meri
Rahein mil ke pyaar ke zameen-aasmaan

Ho, woh mila kyun tha agar usey bichhdana tha?
Muqaddar dil ka tha shayad, mujhe aaqhir bikhrna tha
Tamanna kyun thi jeene ki agar woh hi mera na tha?
Koi aisa dard de, nikal jaaye jaan, nikal jaaye jaan

Jiyoon main zara, mujhe de tu dil mein jagah
Mile mujhko dhoop mein saaya tera
Tere bin nahi sukoon zindagi mein kahin
Bheegun zara, hai dil banjar mera

Andhere mere gehre, sitaaron se the pehre
Mere gham ki raat mein ho tu kehkasha

Ho, woh mila kyun tha agar usey bichhdana tha?
Muqaddar dil ka tha shayad, mujhe aaqhir bikhrna tha
Tamanna kyun thi jeene ki agar woh hi mera na tha?
Koi aisa dard de, nikal jaaye jaan, nikal jaaye jaan

Fitoor OST Song Details:

Album : Fitoor OST
Singer(s) : Aima Baig
Lyricist(s) : Sabir Zafar
Composers(s) : Sabir Zafar
Genre(s) : Soundtrack
Music Label : Har Pal Geo
Starring : Wahaj Ali, Faysal Qureshi, Hiba Bukhari, Kiran Haq

Fitoor OST Song Video:

Popular Albums

ALL

Albums

Similar Artists

ALL

Singers
error: Content is protected !!