Select Page

Home Lyrics Kuch Baaki Hai
Kuch Baaki Hai

Kuch Baaki Hai

88 VIEWS
Kuch Baaki Hai Lyrics | Kuch Baaki Hai Lyrics in Hindi | Kuch Baaki Hai Lyrics in English | Kuch Baaki Hai Lyrics Kaisi Yeh Yaariaan | Kuch Baaki Hai Lyrics Akhil Sachdeva

Kuch Baaki Hai (कुछ बाक़ी है) is a Hindi song from an Indian web series Kaisi Yeh Yaariaan Season 4. The song Kuch Baaki Hai is sung by Akhil Sachdeva whereas Sreejone has composed and written the lyrics of the song. Akhil Sachdeva’s Kuch Baaki Hai lyrics in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Spotify

इक पल थम जा ज़रा तू, रुक जा ज़रा तू, वही काफ़ी है
मैं अधूरा, तुझमें हूँ पूरा, हाँ. मेरा तुझमें कुछ बाक़ी है
वही काफ़ी है, हाँ, काफ़ी है
तू जा रहा है, मगर कुछ बाक़ी है

मैं खुद से गुम सा गया हूँ, शायद मैं तुझमें मिल जाऊँगा
मेरी हर राह का तू है पता, तुझे जाना है तो जा, मैं यहीं हूँ खड़ा
कुछ बाक़ी है, वही काफ़ी है
कुछ बाक़ी है

तुझसे जो लिपटी थी वो चादर मेरे बिस्तर के कोने में पड़ी है
तेरी ख़ुशबू अभी भी है उसमें, मुझे लगता कि अब भी तू यहीं है
वही काफ़ी है, हाँ, काफ़ी है
तू जा रहा है, मगर कुछ बाक़ी है

मेरी रूह का जो रास्ता था, मुझसे ना होके तुझसे जा जुड़ा
मेरा दिल भी तुझमें धड़कता, मुझसे मैं ज़्यादा तुझमें जी रहा
वही काफ़ी है, हाँ, काफ़ी है
तू जा रहा है, मगर कुछ बाक़ी है

तेरी आँखों का काजल अभी भी मेरे घर के सिरहाने पड़ा है
मुझे लौटादे सारी वो बातें, तेरी कजरारी आँखों ने कहा है
वही काफ़ी है, हाँ, काफ़ी है
तू जा रहा है, मगर कुछ बाक़ी है

हज़ारों यादें हमारी मैं जी रहा हूँ, किश्तों में ही सही
कुछ किश्तें तेरी भी बाक़ी, पर अब तू फिर से लौटेगी नहीं
तेरी हर किश्त मैं भर दूँगा जा, इन किश्तों ने ही मुझे दी है पनाह
वही काफ़ी है, हाँ, काफ़ी है
तू जा रहा है, मगर कुछ बाक़ी है

उस मिट्टी में लड़ना-झगड़ना, तुझे छू कर थोड़ा ठहरना
मुझे लौटा उस मिट्टी की ख़ुशबू, मुड़ जा, मैं अब भी यहाँ हूँ
मुझे लौटादे सारी वो बातें, तेरी कजरारी आँखों ने कहा है
वही काफ़ी है, हाँ, काफ़ी है
तू जा रहा है, मगर कुछ बाक़ी है

कुछ बाक़ी है
कुछ बाक़ी है
कुछ बाक़ी है

Ik pal tham ja zara tu, ruk ja zara tu, vahi kaafi hai
Main adhoora, tujhmein hoon poora, haan, mera tujhmein kuch baaki hai
Vahi kaafi hai, haan, kaafi hai
Tu jaa raha hai, magar kuch baaki hai

Main khud se gum sa gaya hoon, shayad main tujhmein mil jaaunga
Meri har raah ka tu hai pata, tujhe jaana hai to ja, main yahi hoon khada
Kuch baaki hai, vahi kaafi hai
Kuch baaki hai

Tujhse jo lipti thi vo chaadar mere bistar ke kone mein padi hai
Teri khushbu abhi bhi hai usmein, mujhe lagta ki ab bhi tu yahi hai
Vahi kaafi hai, haan, kaafi hai
Tu jaa raha hai, magar kuch baaki hai

Meri rooh ka jo raasta tha, muhjhse na hoke tujhse ja juda
Mera dil bhi tujhmein dhadakta, mujhse main zyaada tujhmen ji raha
Vahi kaafi hai, haan, kaafi hai
Tu jaa raha hai, magar kuch baaki hai

Teri aankhon ka kaajal abhi bhi mere ghar ke sirhaabe pada hai
Mujhe lautaade saari vo baatein, teri kajraari aankhon ne kaha hai
Vahi kaafi hai, haan, kaafi hai
Tu jaa raha hai, magar kuch baaki hai

Hazaaron yaadein hamari main ji raha hoon, kishton mein he sahi
Kuch kishtein teri bhi baaki, per ab tu phir se lautegi nahi
Teri har kisht main bhar dunga ja, in kishton ne hi mujhe di hai panaah
Vahi kaafi hai, haan, kaafi hai
Tu jaa raha hai, magar kuch baaki hai

Us mitti mein ladna-jhagadna, tujhe chhoo kr thoda thaharna
Mujhe lauta us mitti ki khushbu, mud ja, main ab bhi yahi hoon
Mujhe lautaade saari vo baatein, teri kajraari aankhon ne kaha hai
Vahi kaafi hai, haan, kaafi hai
Tu jaa raha hai, magar kuch baaki hai

Kuch baaki hai
Kuch baaki hai
Kuch baaki hai

Kuch Baaki Hai Song Details:

Album : Kuch Baaki Hai
Lyricist(s) : Sreejone
Composers(s) : Sreejone
Music Director(s) : Sreejone
Genre(s) : Indian Pop
Music Label : Voot
Starring : Parth Samthaan & Niti Taylor

Kuch Baaki Hai Song Video:

Popular Albums

ALL

Albums

Similar Artists

ALL

Singers