Wednesday, February 28, 2024

Us Mod Se Shuru Karen Phir Yeh Zindagi

Us Mod Se Shuru Karen Phir Yeh Zindagi Lyrics | Us Mod Se Shuru Karen Phir Yeh Zindagi Lyrics in Hindi

Us Mod Se Shuru Karen Phir Yeh Zindagi (उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी) is a Hindi song by Jagjit Singh and Chitra Singh whereas the song is written and composed by Sudarshan Faakir. Jagjit Singh’s Us Mod Se Shuru Karen Phir Yeh Zindagi lyrics in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Spotify.

Romanized Script
Native Script

Us mod se shuru karen phir yeh zindagi
Us mod se shuru karen phir yeh zindagi
Har shay jahaan haseen thi, hum-tum the ajnabi
Us mod se shuru karen phir yeh zindagi

Le kar chale the hum jinhe, jannat ke khwaab the
Le kar chale the hum jinhe, jannat ke khwaab the
Phoolon ke khwaab the wo, mohabbat ke khwaab the
Lekin kahan hai innmein wo pehli si dilkashi
Us mod se shuru karen phir yeh zindagi

Rahte the hum haseen khayalon ki bheed mein
Rahte the hum haseen khayalon ki bheed mein
Ulje hue hain aaj sawalon ki bheed mein
Aane lagi hai yaad wo fursat ki har ghadi
Us mod se shuru karen phir yeh zindagi

Har shay jahaan haseen thi, hum-tum the ajnabi
Us mod se shuru karen phir yeh zindagi

Shayad ye waqt humse koi chaal chal gaya
Shayad ye waqt humse koi chaal chal gaya
Rishta wafa ka aur hi rangon mein dhal gaya
Ashqon ki chandni se thi behtar wo dhoop hi

Us mod se shuru karen phir yeh zindagi
Har shay jahaan haseen thi, hum-tum the ajnabi
Us mod se shuru karen phir yeh zindagi

उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी
उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी
हर शय जहाँ हसीन थी, हम-तुम थे अजनबी
उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी

लेकर चले थे हम जिन्हें, जन्नत के ख़्वाब थे
लेकर चले थे हम जिन्हें, जन्नत के ख़्वाब थे
फूलों के ख़्वाब थे वो, मुहब्बत के ख़्वाब थे
लेकिन कहाँ है इनमें वो पहली सी दिलकशी
उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी

रहते थे हम हसीन ख़यालों की भीड़ में
रहते थे हम हसीन ख़यालों की भीड़ में
उलझे हुए हैं आज सवालों की भीड़ में
आने लगी है याद वो फ़ुर्सत की हर घड़ी
उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी

हर शय जहाँ हसीन थी, हम-तुम थे अजनबी
उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी

शायद ये वक़्त हमसे कोई चाल चल गया
शायद ये वक़्त हमसे कोई चाल चल गया
रिश्ता वफ़ा का और ही रंगो में ढल गया
अश्क़ों की चाँदनी से थी बेहतर वो धूप ही

उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी
हर शय जहाँ हसीन थी, हम-तुम थे अजनबी
उस मोड़ से शुरू करें फिर ये ज़िंदगी

Song Credits

Lyricist(s):
Sudarshan Faakir
Composer(s):
Sudarshan Faakir
Music:
Sudarshan Faakir
Music Label:
Jagjit Singh
Featuring:
Jagjit Singh and Chitra Singh

Official Video

You might also like

Get in Touch

12,038FansLike
13,982FollowersFollow
10,285FollowersFollow

Other Artists to Explore

Laufey

Sabrina Carpenter

Ella Mai

Caleb Hearn

Beyoncé