Wednesday, February 28, 2024

Downers at Dusk

Downers At Dusk Lyrics | Downers At Dusk Lyrics Talha Anjum | Downers At Dusk Lyrics in Hindi

Downers at Dusk is an Urdu Hip-Hop track by Talha Anjum from the album Open Letter. The lyrics of the song are penned by Talha Anjum, whereas UMAIR has produced the music of the song. Talha Anjum’s Downers at Dusk lyrics in Hindi and in English are provided below.

Listen to the complete track on Spotify

Romanized Script
Native Script

Gham behisaab the, alag hi wafa ke zaabte
Alag hi hain agar manzilen toh kyun na alag hi rakhein hum raaste
Kyun na aaj se mita dein yeh qismat hum haath se
Aur zehn aazaad ho yaad se, hum mit jaayein, ja milein khaak se

Tere sheher bhi aaye, par safar se khatam na hue yeh faasle
Zakhm bharein na, bade bereham se pesh aaye hain haadse
Baat se baat nikaali ke tere dil pe lag jaaye meri baat koi
Tu toot’te taaron pe maange mujhe, tujhe mayassar ho aisi raat koi

I’ve been working a lot
Likha nahi chhodta, likhna hi tod hai
Bikte hain yeh gaane laakhon mein, kya yeh sab paise ka shor hai?
Kal saath na honge
Par yaad toh hogi, aur bolo na zindagi kya hai?
Yaadon ki maala hai
Yaadon ke ilava kabhi kuch baaqi raha hai?

Kisi ne kya khoob kaha hai, tere darmiyaan bas tu hi khada hai
Jhukaav zaroori hai, usse zaahir hota hai ke tu hi bada hai
Jise gaye hue khud se zamaana hua wo tummein bhatkta hai
Main khud nahi hoon, yeh koi aur hai mujhmein jo tumko tarasta hai

Wajood ek tamasha tha, hum jo dekhte the wo bhi ek tamasha hai
Hai mere dil ki guzaarish ke mujhe mat chhodo, yeh jaan ka taqaza hai
Hum zindagi dhundhte-dhundhte maut ke munh mein hi jaate rahe
Par hum thehre kalaakaar, khoj mein bhi gun-gunaaate rahe

Aao na, ke tum hi toh ho jeene ki wajah
Ki baithe-baithe kar hi di subah
Na tu aaya, na hi tera hai pata, hmm

Sahiba, main lene aaya hoon teri khabar
Tu dekh le jo ab meri taraf
Toh ho khatam meri bhi yeh saza, hmm

Tum meri yaadon mein saath ho, tum jaake bhi mere paas ho
Tumhaare hi dam se zinda, mar gaya jo tumse fursat ho
Tum meri kitaabon ki tarah ho, tum saamne ho lekin band ho
Yeh dil kyun iraadon ke jaisa nahi? Ke toote nahi abhi tak wo

Maine jo chaaha woh paaya hai, hunar se ghar bhi chalaaya hai
Umar se faraq nahi padta, bada woh hai jisne ban ke dikhaaya hai
“Music haraam,” woh bole, phir mere upar kis khuda ka saaya hai?
Ghadi naaraaz wo khadi naaraaz ki music pe kyun itna time lagaya hai

Khwaab toh khwaab hain, unka poora hona koi zaroori toh nahi hai
Khwaahish toh khwaahish hai, aakhir zindagi bhi koi majboori toh nahi hai
Mujhe gham de, sog de, le ja yeh dil, beshak isey tod de
Woh mohabbat hi kya jo tum chhod aaye, woh mohabbat toh nahi agar chhod gaye

Tum hi guroor thi, tum mein hi noor tha
Tum bhi bezaar thi, main bhi majboor tha
Yeh bhi ek daur hai, woh bhi ek daur tha
Yeh teri khaamoshi toh kya woh shor tha?
Jise tu mili woh koi aur tha
Par apna milna bhi ab mojiza
Main toh gaanon mein zindagi gaata hoon
Kya pata tumhein pasand ho kaunsa

Aao na, ke tum hi toh ho jeene ki wajah
Ki baithe-baithe kar hi di subah
Na tu aaya, na hi tera hai pata, hmm

Sahiba, main lene aaya hoon teri khabar
Tu dekh le jo ab meri taraf
Toh ho khatam meri bhi yeh saza, hmm

ग़म बेहिसाब थे, अलग ही वफ़ा के ज़ाब्ते
अलग ही हैं अगर मंज़िलें तो क्यूँ ना अलग ही रखें हम रास्ते
क्यूँ ना आज से मिटा दें ये क़िस्मत हम हाथ से
और ज़हन आज़ाद हो याद से, हम मिट जाएँ, जा मिलें ख़ाक से

तेरे शहर भी आए, पर सफ़र से ख़तम ना हुए ये फ़ासले
ज़ख़म भरें ना, बड़े बेरहम से पेश आए हैं हादसे
बात से बात निकाली कि तेरे दिल पे लग जाए मेरी बात कोई
तू टूटते तारों पे माँगे मुझे, तुझे मयस्सर हो ऐसी रात कोई

I’ve been working a lot
लिखना नहीं छोड़ता, लिखना ही तोड़ है
बिकते हैं ये गाने लाखों में, क्या ये सब पैसे का शोर है?
कल साथ ना होंगे
पर याद तो होगी, और बोलो ना ज़िंदगी क्या है?
यादों की माला है
यादों के इलावा कभी कुछ बाक़ी रहा है?

किसी ने क्या ख़ूब कहा है, तेरे दरमियाँ बस तू ही खड़ा है
झुकाव ज़रूरी है, उससे ज़ाहिर होता है कि तू ही बड़ा है
जिसे गए हुए ख़ुद से ज़माना हुआ वो तुममें भटकता है
मैं ख़ुद नहीं हूँ, ये कोई और है मुझमें जो तुमको तरसता है

वजूद एक तमाशा था, हम जो देखते थे वो भी एक तमाशा है
है मेरे दिल की गुज़ारिश कि मुझे मत छोड़ो, ये जाँ का तक़ाज़ा है
हम ज़िंदगी ढूँढते-ढूँढते मौत के मुँह में ही जाते रहे
पर हम ठहरे कलाकार, खोज में भी गुनगुनाते रहे

आओ ना, कि तुम ही तो हो जीने की वजह
कि बैठे-बैठे कर ही दी सुबह
ना तू आया, ना ही तेरा है पता, hmm

साहिबा, मैं लेने आया हूँ तेरी ख़बर
तू देख ले जो अब मेरी तरफ़
तो हो ख़तम मेरी भी ये सज़ा, hmm

तुम मेरी यादों में साथ हो, तुम जा के भी मेरे पास हो
तुम्हारे ही दम से ज़िंदा, मर गया जो तुमसे फ़ुर्सत हो
तुम मेरी किताबों की तरह हो, तुम सामने हो लेकिन बंद हो
ये दिल क्यूँ इरादों के जैसा नहीं? कि टूटे नहीं अभी तक वो

मैंने जो चाहा वो पाया है, हुनर से घर भी चलाया है
उमर से फ़रक़ नहीं पड़ता, बड़ा वो है जिसने बन के दिखाया है
“Music हराम,” वो बोले, फिर मेरे ऊपर किस ख़ुदा का साया है?
घड़ी नाराज़ वो खड़ी नाराज़ कि music पे क्यूँ इतना time लगाया है

ख़्वाब तो ख़्वाब हैं, उनका पूरा होना कोई ज़रूरी तो नहीं है
ख़्वाहिश तो ख़्वाहिश है, आख़िर ज़िंदगी भी कोई मजबूरी तो नहीं है
मुझे ग़म दे, सोग दे, ले जा ये दिल, बेशक इसे तोड़ दे
वो मोहब्बत ही क्या जो तुम छोड़ आए, वो मोहब्बत तो नहीं अगर छोड़ गए

तुम ही ग़ुरूर थी, तुम में ही नूर था
तुम भी बेज़ार थी, मैं भी मजबूर था
ये भी एक दौर है, वो भी एक दौर था
ये तेरी ख़ामोशी तो क्या वो शोर था?
जिसे तू मिली वो कोई और था
पर अपना मिलना भी अब मोजिज़ा
मैं तो गानों में ज़िंदगी गाता हूँ
क्या पता तुम्हें पसंद हो कौनसा

आओ ना, कि तुम ही तो हो जीने की वजह
कि बैठे-बैठे कर ही दी सुबह
ना तू आया, ना ही तेरा है पता, hmm

साहिबा, मैं लेने आया हूँ तेरी ख़बर
तू देख ले जो अब मेरी तरफ़
तो हो ख़तम मेरी भी ये सज़ा, hmm

Song Credits

Singer(s):
Talha Anjum
Lyricist(s):
Talha Anjum
Composer(s):
Talha Anjum, UMAIR
Music:
UMAIR
Music Label:
Talha Anjum
Featuring:
Talha Anjum

Official Video

You might also like

Get in Touch

12,038FansLike
13,982FollowersFollow
10,285FollowersFollow

Other Artists to Explore

Ella Mai

Sabrina Carpenter

Drake

Eminem

Sonia Mann